शनिवार, 26 दिसंबर 2009

सेक्स स्कैंडल : राज्यपाल से लेकर सीएम तक


sex_310_01नई दिल्ली. आंध्रप्रदेश के राज्यपाल व किसी जमाने में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे एनडी तिवारी के सेक्स स्कैंडल से जुड़ी तस्वीरें जैसे ही लोगों तक पहुंची, पूरे प्रदेश में कोहराम मच गया। हालांकि राजभवन इन तस्वीरों को झूठा करार दे रहा है वहीं न्यूज चैनल के संपादक फोटो को एकदम खरा बता रहे हैं।

आप यह जानकर जरा भी न चौंकिए क्योंकि तिवारी पहले ऐसे राजनेता नहीं है, जो सेक्स स्कैंडल जैसे गंभीर मामले में फंसे हैं। इनसे पहले भी कई नेता इस तरह की काली करतूतों में फंस चुके हैं लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी प्रदेश के सबसे बड़े पद (गवर्नर) पर बैठा कोई शख्स सेक्स स्कैंडल में फंसा हो। हालांकि यह जांच के बाद तय होगा कि पर्दे के पीछे का सच क्या है?


लेकिन एक बात साफ है कि कोई भी दल अपने आपको पाक साफ नहीं बता सकता है। चाहे वह कांग्रेस हो या फिर भाजपा। यहां तक की राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता भी दूध के घुले नहीं हैं। फिलहाल हम नजर डालते हैं, ऐसे ही कुछ मामलों पर जहां नेताओं का नाम सेक्स स्कैंडल में घसीटा गया।

जब आंध्र के राज्यपाल फंसे सेक्स स्कैंडल में

सबसे पहले बात करते हैं ताजा मामले की, जिसमें आंध्र प्रदेश के राज्यपाल एनडी तिवारी एक सेक्स स्कैंडल में फंस गए हैं। प्रदेश के एक स्थानीय न्यूज चैनल आंध्र ज्योति पर जैसे इस स्कैंडल की तस्वीरें दिखाई जानी शुरु हुई, पूरे प्रदेश में भूचाल आ गया। आनन-फानन में राजभवन को हाईकोर्ट की शरण में जाना पड़ा। जिसके बाद कोर्ट ने इसके प्रसारण पर तत्काल प्रतिबंध लगा दिया। हालांकि इस वीडियो को अभी भी इंटरनेट पर देखा जा सकता है। खैर हम बात करते हैं तिवारी के कथित सेक्स स्कैंडल की। राजभवन से लेकर राज्यपाल तक इन तस्वीरों को झूठा ठहरा रहे हैं लेकिन चैनल का दावा है कि तस्वीरों में जिस शख्स को दिखाया गया है, वह और कोई नहीं बल्कि तिवारी ही हैं।

केरल के वरिष्ठ कांग्रेस नेता को छोड़नी पड़ी कुर्सी

केरल में जब पुलिस ने एक घर पर छापा मारा तो वह यह देखकर दंग रह गए कि कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता किसी महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में रंगलेलियां मना रहे हैं। कांग्रेस ने तत्काल प्रभाव से राजमोहन उन्नीथन को अनैतिक गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में पार्टी से निलंबित कर दिया। मामला दिसंबर महीने का है। पुलिस ने यह छापा स्थानीय लोगों से सूचना मिलने के बाद मारा था।

जब जम्मू व कश्मीर के मुख्यमंत्री का नाम आया सामने

जम्मू व कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुला के ऊपर भी एक सेक्स स्कैंडल में शामिल होने का आरोप लग चुका है। इस आरोप से बौखलाए मुख्यमंत्री ने तो अपने पद से इस्तीफा तक दे दिया था। हालांकि इसे स्वीकार नहीं किया गया। प्रदेश के प्रमुख दलों में से एक पीपुल्स डेमोकेट्रिक पार्टी के मुज्जफर बेग ने यह कह कर सनसनी फैला दी थी वर्ष 2006 में हुए सेक्स स्कैंडल में सीबीआई की लिस्ट में उमर अब्दुला का भी नाम है। इनके इस बयान के बाद प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ गया था। वर्ष 2006 में हुए इस सेक्स स्कैंडल में सत्तर से अधिक राजनेताओं, बिजनेसमैन और सुरक्षा अधिकारियों को नाम आया था।

संघ के संजय जोशी की सीडी बाजार में

वर्ष 2005में जब एक समाचार चैनल ने राष्ट्रीय स्वयं संघ के इस नेता को एक युवा महिला के साथ सेक्स करते हुए दिखाया तो भोपाल से लेकर दिल्ली तक में हंगामा देखने को मिला। इस सीडी में संघ के वरिष्ठ नेता संजय जोशी को एक महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में दिखाया गया। हालांकि बाद में जोशी ने भगवान की सौगंध खाते हुए कहा था कि वे इस तरह के मामले में कभी लिप्त नहीं रहे।

आशीष महर्षि

दैनिक भास्कर से साभार

blog comments powered by Disqus

लोक वेब मीडिया टीम

मुख्य सलाहकार - मुहम्मद शुऐब
मोबाइल
-09415012666
संपादक -तारिक खान
मोबाइल
-09455804309
प्रबंध संपादक -रणधीर सिंह सुमन
मोबाइल
-09450195427
उपसंपादक - पुष्पेन्द्र कुमार सिंह
मोबाइल
-09838803754

subscribe

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Loksangharsh Patrika

Loksangharsh Patrika

 

Template by NdyTeeN