सोमवार, 21 जून 2010

news 22-06-10

                                                               
                                एफ0आई0आर0 तो दूर की बात गुमशुदगी लिखने से भी कतराती है पुलिस
बाराबंकी। मायावती सरकार भले ही  अपनी पुलिस से यह अपेक्षा करे कि वह जनता के दुख दर्द के समय उसके साथ सहानुभूति रख्ेा और मित्र पुलिस के किरदार में नजर आये, परन्तु पुलिस के रवैय्ये में कोई सुधार होता फिलहाल नजर नही आ रहा। इसका एक नमूना नीचे लिखी कहानी में पाठको को स्पष्ट रुप से देखने को मिलेगा।
        जनपद फैजाबाद के थाना रूदौली अंतर्गत ग्राम दलसराय निवासी मेराज अहमद का पुत्र मो0 फहद (17) विगत रविवार से संदिग्ध परिस्थितियो में लापता हो गया है।उसके पिता के अनुसार उसने अपने पुत्र केा दलसराय स्थित अपनी हार्डवेयर की दुकान के लिए बाराबंकी थोक व्यवसायियों से सौदा लेने भेजा था।उसके पास लगभग 4000 रूपये थे। एक सोनी एरिक्सन मोबाइल सेट जिसका नं0 9695199741 है,उसके पास मौजूद था। जिस पर मेराज अहमद की अन्तिम बात रविवार साढ़े दस बजे हुई थी।मो0 फहद ने अपने पिता केा मोबाइल फोन पर बताया था कि वह बाराबंकी पहुच चुका है, नगर स्थित गुड़मण्डी के दुकानदार विक्रान्त हार्डवेयर व ए0के0 मशीनरी की दुकान जा रहा है।
    शाम पाॅंच बजे तक जब मो0 फहद अपने घर नही पहुचा और न ही कोई फोन उसका आया तो उसके पिता मेराज अहमद ने अपने लड़के से मोबाइल पर बात करनी चाही तो उसका स्वीच आफ बता रहा था।  परेशान होकर रात साढ़े ग्यारह बजे के करीब मेराज अहमद बाराबंकी आया और उसने शहर आदर्श कोतवाली में जाकर अपने लड़के की गुमशुदगी दर्ज करानी चाही परन्तु आदर्श कोतवाली के किसी आदर्श पुलिस कर्मी ने उसे यह कहकर भगा दिया कि जाओ पहले खूब खोज लो गया है तो आ ही जायगा।
    गरीब बाप रात में अपने घर इस उम्मीद से लौट गया कि शायद उसका बेटा घर रात में किसी पहर आ जाय परन्तु वह न आया। आज सुबह मेराज अहमद फिर बाराबंकी आया और विक्रान्त हार्डवेयर व ए0के0 मशीनरी दुकानदारो से सम्पर्क साधा जिन्होने उसे बताया कि उसका लड़का उनकी दुकानो पर नही आया।हल्कान परेशान बाप ने पुलिस अधीक्षक के पास प्रार्थना पत्र देकर अपने लड़के की गुमशुदगी दर्ज कर उसे तलाश की गुहार लगायी। जिन्होने उसके प्रार्थना पत्र पर नगर कोतवाली को निर्देशित किया कि विधिवत कार्यवाई करें।परन्तु मेराज अहमद की मुसीबत यहाॅ भी कम नही हुई और कोतवाली के मुंशी ने उसे सिटी चैकी इंचार्ज के पास भेज दिया, कई घण्टे की प्रतीक्षा के बाद मेराज अहमद को सिटी चैकी इंचार्ज ढूढ़े मिले, उसे यह फरमान सुना दिया कि जाओ अपने गुमशुदा बेटे के फोटो की पच्चीस तीस कापियाॅ बनवाकर लाओ।बावजूद फोटो की कापियाॅ मेराज द्वारा उन्हे सिपुर्द करने के गुमशुदगी तब भी नही दर्ज की।
    मेराज अहमद निराश हताश होकर पुनः अपने घर लौट गया। यह कहानी है,सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय सरकार के मित्र पुलिस के रवैय्ये की जो वह आए दिन जनता के साथ पेश करती है।
                                                             (2)
बाराबंकी।बीती रात जनपद में मार्ग दुर्घटनाओं का दौर रहा।थाना हैदरगढ़, रामनगर, मसौली व जहांॅगीराबाद में अलग अलग समय पर हुई घटनाओं में  एक महिला सहित पाॅच व्यक्तियों की मौत हो गयी और नौ लोग घायल हो गये।
पहली बड़ी घटना हैदरगढ़ कस्बे में मुख्य चैराहे पर रात डेढ़ बजे के करीब घटी जब एक बोलेरो जीप सं0 यू0पी0 32 सीए 6102 ने एक खड़े हुए ट्रक सं0 यू0पी0 32 सीजेड 0265 में पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। घटना की सूचना पाकर वहाॅं पहुची पुलिस ने काफी मशक्कत के पश्चात एकदम पिचक चुकी बोलेरो जीप में फॅसे लहुलहान घायलो को जब निकाला तो देखा कि थाना असन्द्रा के ग्राम भोगला निवासी जगजीवन यादव (45) पुत्र राम आसरे की मृत्यु हो चुकी है और सात लोग गम्भीर रुप से घायल हैं। घायलो को पुलिस ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र हैदरगढ़ में भर्ती कराया, जहाॅं प्राथमिक उपचार के उपरान्त उन्हे लखनऊ मेडिकल कालेज के ट्रामा सेन्टर रवाना कर दिया गया।
बोलेरो पर सवार यह काफिला दर असल थाना हैदरगढ़ के थाना खरसतिया से एक विवाह समारोह मे भाग लेने के उपरान्त वापस लौट रहा था। जब जीप हैदरगढ़ कस्बे के मुख्य चैराहे पहुची तेा वहां अन्धेरे मे बगैर पार्किगं लाइट खड़े एक ट्रक मे वह जा घुसी घटना के उपरान्त पीछे बैठे जगजीवन यादव जेा अपने भांजे की बारात ग्राम बेलहरी, थाना हैदरगढ़ से खरसतिया बीती शाम लेकर गये थे और जीप मे वापस लौट रहे थे, की मृत्यु मौके पर ही हो गई जबकि उनके पुत्र पिंटू (17) की मृत्यु लखनऊ  ट्रामा सेन्टर जाकर हो गई। शेष घायलो मे जो ट्रामा सेन्टर मे जेरे इलाज हैं एक अन्य व्यक्ति की मरने की सूचना समाचार प्रेषित करने तक प्राप्त हुई है जिसकी पुष्टि हैदरगढ़ पुलिस ने अभी नही की है। 
दूसरी घटना थाना रामनगर अन्तर्गत फतेहपुर रामनगर मार्ग पर ग्राम देवसानी के पास आज प्रातः साढ़े तीन बजे हुई जब अपने भतीजे की बारात से लौट रहे हंसराज (42) पुत्र अज्ञात निवासी रमनगरा थाना फतेहपुर जो अपनी मोटर साइकिल पर सवार थे एक ट्रक्टर ट्राॅॅली ने जोर दार टक्कर मारकर उनकी मोटर साइकिल को क्षतिग्रस्त कर दिया, परिणाम स्वरुप हंसराज की मौके पर ही मृत्यु हो गई। घटना के समय मृतक के साथ चल रही एक अन्य मोटर साइकिल र सवार दो व्यक्तियो ने दौड़ा कर ट्रक्टर ट्राली व उसके चालक को पकड़ कर पुलिस के हवालेे कर दिया।
उधर थाना मसौली के ग्राम रौशन चक्र के भीखालाल की पत्नी रामदेयी (60) को कल शाम साढ़े छः बजे एक तेज रफ्तार मोटर साइकिल सवार अनुजपाल ने थाना जहांगीराबाद के ग्राम बनवा के पास पैदल जाते हुए टक्कर मार दी, जिसकी जिला अस्पताल मे उपचार के दौरान बीती रात मृत्यु हो गई।
इसी प्रकार हादसो के लिए प्रसिद्ध थाना सफदरगंज अन्तर्गत ग्राम दादरा के पास एक ट्रक मे पीछे से स्कार्पियो जीप जा टकराई जिसके कारण जीप मे सवार जनपद बस्ती की नगर कोतवाली के मोहल्ला खीरी घाट निकट बंसल स्कूल के संजय (56) पुत्र शशी प्रसाद व उनकी पत्नी रोमा (32) पुत्र संतोष (30) व पुत्री परवीन (9) को जिला अस्पताल के आपात कक्ष मे सफदरगंज पुलिस द्वारा भर्ती कराया गया है। 

blog comments powered by Disqus

लोक वेब मीडिया टीम

मुख्य सलाहकार - मुहम्मद शुऐब
मोबाइल
-09415012666
संपादक -तारिक खान
मोबाइल
-09455804309
प्रबंध संपादक -रणधीर सिंह सुमन
मोबाइल
-09450195427
उपसंपादक - पुष्पेन्द्र कुमार सिंह
मोबाइल
-09838803754

subscribe

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Loksangharsh Patrika

Loksangharsh Patrika

 

Template by NdyTeeN