गुरुवार, 22 जुलाई 2010

कांग्रेस न अल्पसंख्यक की बात करती है और न बहुसंख्यक की वह मजबूत प्रगतिशील व धर्मनिरपेक्ष भारत की बात करती है-सलमान खुर्शीद

बाराबंकी।केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री सलमान खुर्शीद ने आज अल्पसंख्यक (अल्पसंख्यक,पिछड़ा) कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में अल्पसंख्यकों के आर्थिक,शैक्षिक और सामाजिक उत्थान के लिए यू0पी0ए0सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यो की विस्तृत रुप रेखा प्रस्तुत की और मुसलमानों को आहवान किया कि वह विपक्षी दलों के बहकावे में न आये जिनके नेेता कभी माफी मांगते है फिर धोखा देेते हैं, कभी मौलाना बन जाते हैं और फिर कातिल बन जाते है।
 केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने स्थानीय मुगल दरबार हाल में आयोजित उक्त सम्मेलन के मुख्य अतिथि के हैसीयत से अपने सम्बोधन में आगे कहा कि सच्चर कमेटी का गठन हमने इसलिए किया था ताकि मुसलमानों की बदहाल जिन्दगी की सही तस्वीर सरकारी आंकड़ो के द्वारा देशवासियों के सामने रखी जा सके। उनके अनुसार सच्चर कमेटी की रिपोर्ट आ जाने के उपरान्त ही कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी ने अल्पसंख्यक मंत्रालय का केन्द्र में गठन किया,फिर प्रधानमंत्री के 15 सूत्रीय कार्यक्रम घोषित किए गए जिसके अंतर्गत विकास के लिए बनने वाली हर योजना का 15 प्रतिशत मुसलमानों के लिए सुरक्षित किया गया।उन्होने कहा कि हम केवल जजबाती नारों व धोखाधड़ी करके मुसलमानों का वोट प्राप्त करने के लिए काम नही करते।हम मुसलमानांे के लिए ठोस काम करने में विश्वास करते है। श्री खुर्शीद ने बुनकरों की कर्जा माफी के बारे में संकेत देते हुए कहा कि यह मामला योेजना आयोग के सामने जेरे गौर है।यू0पी0सरकार देश के हर कमजोर वर्ग को ऊपर उठाकर मुख्यधारा में लाना चाहती है।हम सिर्फ मुसलमान की बात नही करते न हम हिन्दुत्व की बात करते है। हम देश के सभी वर्गाे व सभी धर्मो को साथ लेकर एक मजबूत भारत की बात करते है और आज विश्व के नक्शे पर हमने अपना एक उन्नतिशील देश का स्थान बनाया है।जिसे हम और उन्नतिशील देखना चाहते है। मुसलमानों के आरक्षण के बारे में उन्होने कहा कि हम जल्दी  में कोई निर्णय इस विषय पर लेना नही चाहते ताकि देश में विघटन पैदा करने वाले तत्वों को बल मिले।उन्होने इशारा देते हुए कहा कि कर्नाटका,तमिलनाडु, केरल व आन्ध्र का माडल जो अल्पसंख्यकों के आरक्षण के लिए बनाया गया है हम उसी तर्ज पर 27 प्रतिशत पिछड़े वर्ग के आरक्षण कोटे में अल्पसंख्यकों की आबादी के हिसाब से उन्हे आरक्षण देने पर विचार कर रहे है। उन्होने कहा कि लोग रंगनाथ कमीशन की बात करते है,लेकिन हमारा मानना है कि जब सच्चर कमेटी से बात न बने तो रंगनाथ मिश्रा कमीशन की आवश्यकता पड़ेगी।
  श्री खुर्शीद ने अपने मंत्रालय द्वारा अल्पसंख्यकों के लिए जारी छात्रवृत्ति व अन्य स्कीमों का पिटारा खोलते हुए कहा कि हमने प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति,पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति,मेरिट कममीन्स योजनाओं से अल्पसंख्यक छात्रों को संतृप्त किया और पिछले दो वर्ष में 35-36 लाख छात्रों को अनुदान दिया गया।उन्होने अन्य स्कीमों के बारे में बताते हुए कहा कि उच्च शिक्षा ग्र्रहण करने वाले छात्रों के लिए विशेष पैकेज हमारा मंत्रालय देता है।हमारा उद्देश्य यह है कि कोई भी होनहार अल्पसंख्यक छात्र संसाधनों के अभाव में अपना लक्ष्य हासिल करने से महरुम न रह जाए।उन्होने मुस्लिम महिलाओं की शिक्षा पर विशेष जोर देते हुए कहा कि इनके लिए अनेक योजनाए हमारी सरकार चला रही है।
 अल्पसंख्यकों के आर्थिक,शैक्षिक व सामाजिक उद्धार के लिए बनायी गयी विशेष योजना मल्टी सेक्टोरियल डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट प्लाण्ट की चर्चा करते हुए उन्होने कहा कि यह स्कीम किसी कारण से मुख्य धारा से पिछड़ गये अल्पसंख्यकों जिसमें 85 प्रतिशत मुसलमान आते है, के लिए बनायी गयी है और देश के उन 90 जनपदों को इस योजना के अंतर्गत चुना गया है।जहाॅ अल्पसंख्कों की आबादी 5 लाख से अधिक अथवा 20 प्रतिशत से अधिक है।हमारा प्रयास यह है कि हम इसे 15 प्रतिशत करके देश के और जनपदों केा इस योजना में शामिल करें और अगले दो वर्षो में अल्पसंख्यकों के उत्थान के लिए 35 हजार करोड़ रुपये यू0पी0ए0सरकार लगाने की इच्छुक है।
 श्री खुर्शीद जिस समय अपना भाषड़ दे रहे थे भीड़ से किसी ने उन्हे बताया कि बाराबंकी में अल्पसंख्यकों के लिए  मल्टी सेक्टोरियल डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट प्लाण्ट  अंतर्गत प्रस्तावित 6 हजार आवासीय घरों में अल्पसंख्यकों को केवल 40 प्रतिशत का कोटा दिया जा रहा है।शेष 60 प्रतिशत दलितों व अन्य पिछड़ो को दिया जा रहा है।सलमान खुर्शीद ने बताया कि उनके संज्ञान में यह बात पुनिया जी द्वारा सम्मेलन के एजेण्डे के माध्यम से लायी गयी है और इस बारे में उनका नजरिया स्पष्ट है कि मल्टी सेक्टोरियल डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट प्लाण्ट के अंतर्गत अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में जो विकास कार्य कराये जा रहे है,उसका लाभ अल्पसंख्यकों को मिलने के साथ साथ दूसरें वर्ग को भी मिले,इससे अल्पसंख्यकों व बहुसंख्यकों के बीच रिश्तों और मजबूती आएगी।फिर भी यदि इन्दिरा आवास की गाइड लाइन 60 -40 के अनुपात में मुस्लिम वर्ग आवश्यकता अनुसार लाभान्वित होने से रह जाते हैं तो इस पर पुनः विचार करेंगे।
 कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री मोहसिना किदवाई ने सम्मेलन में उपस्थित सेवादल व कांग्रेसी कार्यकर्ताओं से कहा कि केन्द्र की यू0पी0ए0सरकार तेा बहुत कुछ कर रही है परन्तु सरकारी स्कीमों का लाभ जनता तक सही ढंग से पहुॅचे इसके लिए उन्हे सजग प्रहरी की भूमिका निर्वाह करना होगा।प्रदेश सरकार पर टिप्पणी करते हुए उन्होने कहा कि प्रदेश के पिछड़ेपन माया सरकार के निकम्मेपन के कारण है।बुनकरो की बदहाली पर उन्होने कहा कि उनके लिए विशेष पैकेज शिक्षा का कंडेन्स कोर्स के रुप में दिया जाना चाहिए।उन्होने मंच पर उपस्थित सलमान खुर्शीद को सम्बोधित करते हुए कहा कि बनकरों की विभिन्न समस्याओं का एक वृहद सम्मेलन का आयोजन उन्हे करना चाहिए।
 केन्द्र के अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय चेयरमैन इमरानउर्रहमान किदवाई ने अपने सम्बोधन में कहा कि मुसलमानों के उद्धार के लिए केन्द्र से भेजा जा रहा पैसा प्रदेश सरकार सही ढंग से नही लगा रही है। उन्होने कांग्रेस के संगठन को विचारों के आधार पर मजबूत करने की वकालत करते हुए कहा कि कांग्रेस एक राष्ट्रीय पार्टी है और इसने अपने 125 साल के वजूद में उसूलों से कभी भी समझौता नही किया, भले हम सत्ता में रहे या न रहे। उन्होने कहा कि यूॅ तो हर पार्टी धर्मनिरपेक्षता की बात करती है और भाजपा जैसी पार्टी भी अपने को असल धर्मनिरपेक्ष कहती है। परन्तु इतिहास साक्षी है कि इस राजनीतिक दल का क्या चरित्र है। उन्होने कहा कि कांग्रेस की लड़ाई विचारधारा से है।उन्होने कहा कि मेरा व्यक्तिगत मामला है कि गांधी का कत्ल नाथूराम गोडसे ने नही किया बल्कि उसी विचारधारा ने किया जिसने गांधी की भी हत्या की और इन्दिरा गांधी भी की और उसी विचारधारा ने बाबरी मस्जिद को भी शहीद कर डाला।उन्होनेे कहा कि हमारे ऊपर आरोप लगाया जाता है कि हम बाबरी मस्जिद के गिराने में शामिल थे।यदि यह बात सही है तो क्या हमने ही गांधी की हत्या करायी व इन्दिरा गांधी की भी।विचारधारा का फर्क यह है कि हमने गांधी पैदा किया और उन्होने गांधी की हत्या की।श्री किदवाई ने आगे कहा कि कांग्रेस ही एक ऐसी पार्टी है जेा पार्टी के लीडरों को भी उनकी गल्ती की सजा देती है।इसकी मिशाल यह है कि बाबरी मस्जिद को न बचा पाने वाले जैसे प्रधानमंत्री को दुबारा टिकट नही दिया।हम अगर बाबरी मस्जिद को बचाने में असफल रहे तो वहीं मुस्लिम पर्सनल ला की सुरक्षा हमने ही की।अंत में उन्होने कहा कि यह बात सही है कि जब जब मुसलमानों ने कांग्रेस का साथ छोड़ा कांग्रेस सत्ता से बेदखल हो गयी,परन्तु आज के हालात यह है कि यदि कांग्रेस पार्टी को मुस्लिम वोटो की जरुरत है तो मुसलमानों को कांग्रेस की बहुत जरुरत है।
 इससे पूर्व सम्मेलन के स्वागताध्यक्ष व स्थानीय सांसद पी0एल0पुनिया ने मुख्य अतिथि सलमान खुर्शीद,मोहसिना किदवाई और अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश अध्यक्ष मारुफ खान का स्वागत करते हुए उनका हार्दिक अभिनन्दन किया और सम्मेलन आयोजित के उद्देश्य पर संक्षिप्त रुप से प्रकाश डाला।
सम्मेलन का प्रारम्भ जिला अल्पसंख्यक विभाग के ब्लाक अध्यक्ष सिरौलीगौसपुर नईम आरफी की कविता पाठ से हुआ,उसके पश्चात जनपद के सुप्रसिद्ध समाजसेवी व जिला बुनकर फेडरेशन के अध्यक्ष सूफी उबैदउर्रहमान ने बुनकरों की समस्याओं पर प्रकाश डालते हुए केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री के माध्यम से कांग्रेस व यू0पी0ए0 की अध्यक्षा सोनिया गांधी को एक 13 सूत्री मांगपत्र दिया।इसी के साथ साथ कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के जिलाध्यक्ष व सम्मेलन के संयोजक मजहर अजीज खाॅ द्वारा सलमान खुर्शीद को अल्पसंख्यकों से सम्बन्धित विभिन्न समस्याओं पर 20 सूत्री मांगपत्र दिया।
 सम्मेलन में जिला कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रिजवानउर्रहमान किदवाई पी0सी0सी0सदस्य राम जियावन यादव,संतोष श्रीवास्तव,पूर्व सांसद ए0पी0गौतम,सेवादल के जिलाध्यक्ष गयादीन यादव,जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष बृजेश दीक्षित,किसान एवं खेत मजदूर के अध्यक्ष अरशद खान,वीरेन्द्र यादव,सरजू शर्मा,बदरुल हसन एडवोकेट, चैधरी मेराजउद्दीन एडवोकेट,अन्नू उस्मानी बिलालमंजूर किदवाई ,मुनीरउद्दीन खाॅ,अफरोज मेंहंदी रिजवी,कैफी रिजवी,मो0हारुन,मो0सुहैल,रमेश कश्यप,सलाम मोहम्मद एडवोकेट,वसीम गाजी,जुल्फी मियाॅ,इसरार हुसैन,लल्लन,दीपक सिंह रैकवार,शबनम वारिस,महबूब किदवाई, नूर आलम शाह आलम,रशीदइदरीशी,मो0फारुक,ताज किदवाई, रानी कनौजिया,अन्नपूर्णा तिवारी,जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष मंजू दीक्षित सहित हजार की संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे। इससे पूर्व सलमान खुर्शीद के नगर में आगमन पर अल्पसंख्यक विभाग के नगर अध्यक्ष मोहसिन मतीन ने देवां चैराहे पर उनका भव्य स्वागत किया।
 कांग्रेस के जिलाध्यक्ष,जिनकी अध्यक्षता में यह सम्मेलन हुआ फवाद किदवाई ने अंत में आए हुए मुख्य अतिथि व अन्य सम्मानित अतिथियों के साथ साथ सम्मेलन की सफलता के लिए अल्पसंख्यक विभाग के जिला कार्यकर्ता व कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के प्रति आभार व्यक्त किया।

 

blog comments powered by Disqus

लोक वेब मीडिया टीम

मुख्य सलाहकार - मुहम्मद शुऐब
मोबाइल
-09415012666
संपादक -तारिक खान
मोबाइल
-09455804309
प्रबंध संपादक -रणधीर सिंह सुमन
मोबाइल
-09450195427
उपसंपादक - पुष्पेन्द्र कुमार सिंह
मोबाइल
-09838803754

subscribe

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Loksangharsh Patrika

Loksangharsh Patrika

 

Template by NdyTeeN