शुक्रवार, 25 जून 2010

आपातकाल की लड़ाई आजादी की लड़ाई से अधिक कठिन थी-राजनाथ शर्मा



बाराबंकी। गांधी समारोह ट्रस्ट के तत्वाधान मे देवां रोड स्थित गांधी भवन मे आपातकाल विरोधी दिवस मनाया गया। इसकी अध्यक्षता करते हुए गांधी वादी समाजवादी विचारक व चिन्तक राजनाथ शर्मा ने कहा कि देशवासियो को लोकतंत्र मे फिर ऐसी किसी स्थित के पैदा होने का विरोध करना चाहिए कि जिसके फलस्वरुप देश मे पुनः आपातकाल की स्थिति उत्पन्न हो।
श्री शर्मा ने अपनी बात जारी करते हुए कहा कि आजादी की लड़ाई जो विदेशियो से थी इसलिए यह उतनी कठिन नही थी, जितनी की आपातकाल की लड़ाई क्योंकि यह लड़ाई अपनो से थी। 18 माह का जुल्म और ज्यादती का दौर भारतीय लोकतंत्र के इतिहास मे सदैव एक काला धब्बा माना जाएगा। उन्होने देश के नौजवानो का आहवान किया कि वह इस बात को समझे की लोकतंत्र मे तानाशाही का कोई स्थान नही। जनता के वोटो जीत कर सत्ता सीन होने वाले राजनीतिज्ञो का उद्देश्य देश की सेवा होना चाहिए न कि तानाशाही, तभी देश मे समृद्धि व समरसता आएगी और देश का विकास सम्भव हो सकेगा।
कार्यक्रम मे उपस्थित सरदार अवतार सिंह, म्त्यंजय शर्मा, पाटेश्वरी प्रसाद, राजेश निगम, सुरेश जायसवाल, रामू वर्मा, रामचन्द्र वर्मा, हाफिज शकील व मो0 अतहर आदि ने भी अपने विचार रखे । प्रोग्राम के अन्त मे लोकतंत्र रक्षक सेनानियो केा दी जाने वाली सारी सुविधाओ को सरकार से बहाल करने की मांग की गई। कार्यक्रम के अन्त मे जनपद के हरदिल अज़ी़ज़ व्यक्ति स्वर्गीय शकील आलम एवं बिहार के समाजवादी सांसद स्वर्गीय दिग्विजय सिंह की असमायिक मृत्यु पर दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्माओ के लिए शांति की प्रार्थना की गई।
2
जनपद के विभिन्न आंचलो में लूट करने वाले दो गिरोह के सात सदस्य गिरफ्तार
बाराबंकी। जनपद मे विगत कुछ माह से जारी लूट की वारदातों को अन्जाम देने वाले दो गिरोह के 7 सदस्यो को गिरफ्तार करने का दावा पुलिस ने किया है । पुलिस लाइन मे एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान पुलिस अधीक्षक नवनीत कुमार राणा ने पत्रकारो को बताया कि उनके दिशा निर्देश पर काम करने वाली एस0ओ0जी0 टीम ने थाना बदोसराय के अदरा रोड़ पर लूटपाट व हत्या करने वाले एक गिरोह के तीन सदस्यो व थाना फतेहपुर क्षेत्र के विहुरा चैराहा के पास एक मुडभेड़ मे एक अन्य गिरोह के 4 सदस्यो को नाजायज़ अस्लहो के साथ गिरफ्तार कर लिया।
पलिस अधीक्षक के अनुसार थाना बदोसराय मे दिनांक 28 अप्रैल 2010 की रात्रि 8ः30 बजे डड़ाकापुरवा गांव के मजरे मदारपुर मे इसी थाने के ग्राम अदरा निवासी विनोद कुमार की मोटर साईकिल न0 यू0पी0 32 सी एच 1580 व एक लावा मोबाइल सेट छीनने वाले गिरोह के सरगना अनुशान्त उर्फ प्रिन्स जायसवाल पुत्र आनन्द किशोर जायसवाल निवासी 751 सिविल लाइन कोतवाली नगर सीतापुर व उसके दो अन्य साथियो शरद उर्फ राहुल पुत्र रामलखन निवासी छंगेपुर निकट सूरतगंज थाना मोहम्मदपुर खाला व बब्बन उर्फ विजय कुमार रावत निवासी कटैय्या थाना जैदपुर के हमराह विगत दिवस थाना बदोसराय मे गिरफ्तार किया गया। अपराधियो के कब्जे से पुलिस ने 28 अप्रैल 2010 की रात विनोद कुमार से लूटी गई मोटर साईकिल हीरोहाण्डा स्पलैण्डर प्लस बरामद कर ली उक्त घटना के बारे मे अपराधियो द्वारा अपना जुर्म स्वीकार कर लिया गया है। पुलिस अधीक्षक ने यह भी बताया कि विगत 7 अक्टूबर 2009 के थाना सतरिख मे हैदरगढ़ बाईपास छेदानगर चड्ढ़ा फार्म के पास थाना नगर कोतवाली के मोहल्ला लखपेडा बाग निवासी शैलेन्द्र चन्द्र श्रीवास्तव की हत्या व लूट का अपराध भी मुख्य अभियुक्त शरद उर्फ राहुल ने स्वीकार कर लिया है।
इस घटना का दिलचस्प पहलू बताते हुए पुलिस अधीक्षक राणा ने अपने विभाग के निरीक्षक हरी प्रसाद के ऊपर टिप्पणी कसते हुए कहा कि हमारे काबिल इंस्पेक्टर ने 28 अप्रैल 2010 की रात डड़ाकापुरवा के मजरे मदारपुर मे हुई लूट के मामले दो निर्दोष व्यक्तियो बिन्नू पुत्र हाशिम व सफी पुत्र शफी को वादी द्वारा नामजद् कराए जाने पर बगैर छानबीन किये जेल भेज दिया था। जो बाद मे जमानत पर रिहा हो गये पुलिस अधीक्षक ने अपने मातहत इस्पेक्टर की कार्यवाही को गलत बताते हुए उन्हे वार्निग देते हुए कहा कि अब यदि उन्होने झूठा मुकदमा निर्देषो के विरुद्ध लिखाने वाले विनोद कुमार के विरुद्ध भा0द0वि0 की धारा 182 के अन्तर्गत नही चलाया तेा उनके विरुद्ध वह कार्यवाही करेंगे, क्यांेकि लूट का माल अब पकडे गए मुजरिमो से बरामद हो चुका है। मजे की बात यह है कि इस्पेक्टर बदोसराय ने निर्दोष व्यक्तियो को गिरफ्तार करते समय उनके पास से लूट के समय का लावा मोबाइल बरामद दिखलाया था।
गिरफ्तार अनुशान्त उर्फ प्रिन्स जायसवाल के पिता आनन्द किशोर जायसवाल जनपद सीतापुर से सब रजिस्ट्रार के पद से सेवानिवृत्त हुए है और वह स्वंय स्नातक डिग्री प्राप्त है तथा गोदरेज कम्पनी मे काम कर चुका है, परन्तु गलत सोैहबत के चलते वह इस लूट के धन्धे मे शामिल हो गया। इसी प्रकास शरद उर्फ राहुल इण्टर पास है और उसका भाई अनिल जनपद मे पेशकार है। वह गाड़ी का ड्राइवर है और शैलेन्द्र चन्द्र श्रीवास्तव की हत्या उसने अपने एक मित्र के साथ मिलकर उसी की गाड़ी चलाते हुए केवल एक मोबाइल के लेनदेन मे कर दी थी जिसमे उसका मित्र अमित शर्मा निवासी लखपेड़ा बाग सतरिख पुलिस द्वारा पहले ही पकडा जा चुका है परन्तु शरद तब से फरार चल रहा था।
दूसरे लूटेरे गैंग के बारे मे खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया कि एस0ओ0जी0 टीम ने काफी मुशक्कत के बाद थाना फतेहपुर क्षेत्र के विहुरा चैराहे पर एक पुलिस मुड़भेड के दौरान चार शतिर अपराधियो को गिरफ्तार कर लिया गिरफ्तार पुत्र नन्हु खां निवासी कटरा मोहल्ला कटरा थाना महमूदाबाद जिला सीतापुर अब्दुल बारी उर्फ पप्पू पुत्र मो0 यासीन निवासी बेलहरा थाना मो0 पुर खाला, बाराबंकी आबिद अली पुत्र हामिद अली निवासी भिटौली थाना सतरिख बाराबंकी,पप्पू उर्फ हसीब पुत्र मुन्ना भिटौली थाना सतरिख के पास से क्रमशः एक अदद चाकू व एक अदद लूटा हुआ मोबाइल अतीक के पास से तथा एक अदद तमंचा 315 बोर दो जिन्दा कारतूस अब्दुल बारी के पास से बरामद किया है। चारो अभियुक्तो ने विगत 14 जनवरी को थाना फतेहपुर क्षेत्र के गांगेमऊ पुल के पास व्यापारी अनिल रस्तोगी की मोटर साइकिल ,2500 रू0 व एक मोबाइल सेट नोकिया लूटना स्वीकार किया है,जबकि व्यापारी ने 11600 रू0 की लूट दिखायी थी।
blog comments powered by Disqus

लोक वेब मीडिया टीम

मुख्य सलाहकार - मुहम्मद शुऐब
मोबाइल
-09415012666
संपादक -तारिक खान
मोबाइल
-09455804309
प्रबंध संपादक -रणधीर सिंह सुमन
मोबाइल
-09450195427
उपसंपादक - पुष्पेन्द्र कुमार सिंह
मोबाइल
-09838803754

subscribe

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Loksangharsh Patrika

Loksangharsh Patrika

 

Template by NdyTeeN