शनिवार, 20 नवंबर 2010

प्रदेश के पूर्व राज्यमंत्री जमुना प्रसाद निषाद की बोलेरो पूर्व विधायक राधेश्याम वर्मा के टैक्टर टाली से टकरायी थी

बाराबंकी। प्रदेश सरकार के पूर्व राज्य मंत्री व गोरखपुर से विधायक जमुना प्रसाद निषाद की बोलेरो जीप जिस टैक्टर से जा भिड़ी थी वह पूर्व विधायक स्व0राधेश्याम वर्मा के ईंट भटठे से सम्बन्धित था और बिगड़ जाने के कारण रोड पर बेड़ा खड़ा था। प्रत्यक्षदर्शियोें के अनुसार पूर्व मंत्री के वाहन की रफतार 100 कि0मी0प्रति घण्टा से अधिक थी जो अनियंत्रित होकर खड़े टैक्टर टाली से जा टकरायी।
 फैजाबाद बाराबंकी राजमार्ग पर ग्राम बघौरा से उधौली ग्राम स्थित थाना सफदरगंज पर बीती रात सवा 9 बजे के करीब पेश आए इस सड़क हादसे में जमुना प्रसाद निषाद समेत पाॅच व्यक्तियों की कल मृत्यु हो गयी थी बाद में उपचार के दौरान शेष दो व्यक्ति जिसमें श्री निषाद का पुलिस गनर भी शामिल है डा0राम मनोहर लोहिया अस्पताल लखनऊ में चल बसे।
 प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री निषाद अपनी बोेलेरो जीप से लखनऊ की ओर से गोरखपुर अपने घर की यात्रा पर थे कि सफदरगंज चैराहे से कुछ दूरी पर ग्राम बघौरा स्थित फलाई ओवर पार करने के उपरान्त जैसे ही उनकी गाड़ी उधौली की ओर बढ़ी तो कोहरे की धुन्ध से अदृश्य टैक्टर टाली के अचानक सामने आ जाने पर जीप चालक लौटू के कुछ बनाये नही बना और घबराहट में उसने सीधी सीधी जीप ले जाकर तिरछी खड़ी टैक्टर टाली में भिड़ा दी। बताते है कि यह टैक्टर टाली यू0पी041टी 2669 पूर्व विधायक राधेश्याम वर्मा के ईट भटठे की थी और जिसे थाना रा0स0घाट के मेहोरा ग्राम के मो0वसीम पुत्र अब्दुल रहमान चला रहा था। टाली में ईंटे लदी थी जिसे लेकर वि0ख0हरख के ग्राम दौलतपुर टेसुवा जा रहा था। परन्तु टैक्टर टाली का एक पहिया ढीला होकर निकल गया और टाली तिरछी होकर सड़क पर खड़ी हो गयी। ठीक उसी समय तेजी से आ रही श्री निषाद की बोलेरो जीप इस बिगड़ी टैक्टर टाली से आ टकरायी। टक्कर इतनी जोर दार थी कि टाली दोनो पहिए धुरे समेत कई फिट हवा मेें उडकर कई गज आगे गिरे। परिणाम स्वरुप बोलेरो जीप में सवार जमुना प्रसाद निषाद (58),होरी लाल निषाद(40)पुत्र विशेषर निषाद, ंरंजीत (45)पुत्र भगीरथ, राजेन्द्र राय (55) लौटू जीप चालक(35), चन्दन (28)पुत्र राम प्रताप, राम नगीना गनर(45)पुत्र महावीर यादव समेत सात लोग खून से लथपथ बोलेरो जीप में जो कि पूर्णतया पिच्चा हो चुकी थी काफी देर तक फॅसे रहे धमाके की आवाज सुनकर गांव से लोग दौड़ आए और घटना की सूचना पाकर सफदरगंज थाना अध्यक्ष दलबल के साथ मौके पर जा पहुॅचे उच्चाधिकारियांे को भी सेट द्वारा सूचित कर दिया गया। एक इमरजेन्सी की स्थिति हो गयी जिलाधिकारी विकास गोठलवाल स्वयं कमान सॅभालकर जिला अस्पताल के लिए रवाना हुए उधर एस0ओ0 सफदरगंज ने घायल जमुना प्रसाद निषाद और कुछ अन्य घायलो को जो पहले जीप निकल सके लेकर जिला अस्पताल पहुॅचे जहाॅ जिलाधिकारी पहले से ही मौजूद थे जिलाधिकारी को डाक्टर द्वारा बताया गया कि पूर्व मंत्री निषाद की मृत्यु हो चुकी है फिर भी जिलाधिकारी निषाद के शरीर को लेकर राम मनोहर लोहिया इस आशा से भागे कि शायद उनमें कुछ जान हो परन्तु वह तो पहले ही मर चुके थे जिलाधिकारी उल्टे पैर फिर वापस जिला अस्पताल आए और शेष घायलो के उपचार की समीक्षा की जिसमें से चार और मर चुके थे उनके शवो को रात दो बजे अपनी देखरेख में अन्त्य परीक्षण कराकर उनके शवो को जिला अस्पताल की दो एम्बुलेंस गाड़ियो में लादकर गोरखपुर रवाना किया। इस दौरान जिला अस्पताल में डी0आई0जी0फैजाबाद राजेश कुमार राय तथा डी0जी0 स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डा0एस0एन0राम तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक व जिला अस्पताल का समस्त स्टाफ रात भर घायलो व मृतको की देखरेख मे जुटा रहा।  

blog comments powered by Disqus

लोक वेब मीडिया टीम

मुख्य सलाहकार - मुहम्मद शुऐब
मोबाइल
-09415012666
संपादक -तारिक खान
मोबाइल
-09455804309
प्रबंध संपादक -रणधीर सिंह सुमन
मोबाइल
-09450195427
उपसंपादक - पुष्पेन्द्र कुमार सिंह
मोबाइल
-09838803754

subscribe

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Loksangharsh Patrika

Loksangharsh Patrika

 

Template by NdyTeeN