शुक्रवार, 26 नवंबर 2010

चार करोड़ की मारफीन के साथ अंतर्राज्यीय तस्कर गिरफतार

बाराबंकी। स्पेशल आपरेशन ग्रुप पुलिस ने साढे चार किलोग्राम मारफीन के साथ मणिपुर प्रान्त के जनपद विशेनपुर के थाना मोइरांग के ग्राम कवाक्ताखुन्बू निवासी अब्दुल खालिक (52)पुत्र स्व0हसीमुददीन उर्फ अब्दुल गफ्फार को हरख चैराहा पर उस समय गिरफतार कर लिया जब वह मारफीन की डिलवरी देने स्थानीय तस्कर सिराज पुत्र मुवीन टिकरामुर्तजा व कय्यूम नि0टिकराउस्मा थाना जैदपुर को देने आ रहा था। पकड़ी गयी मारफीन की अंतर्राष्टीय बाजार में कीमत पुलिस द्वारा लगभग चार करोड़ बतायी जा रही है।
 अपने निर्देशन पर काम करने वाली एस0ओ0जी0टीम की पीठ थपथपाते हुए पुलिस अधीक्षक नवनीत कुमार राणा ने आज शाम पुलिस लाइन में आयोजित एक प्रेस वार्ता में बताया कि अभियुक्त अब्दुल खालिक के पकड़े जाने व इससे पूर्व अब्दुल रजाक के गिरफतार किए जाने से यह बात स्पष्ट रुप से सामने आ रही है कि उत्तर पूर्व के प्रान्त मणिपुर का जनपद विशेनपुर उस क्षेत्र में नारकोटिक्स तस्करी का एक हब बन गया है।
 पुलिस अधीक्षक ने पत्रकारो को वह चटायी दिखायी जिसके अन्दर बड़ी चतुरायी के साथ तह के अन्दर एक पर्त मारफीन की बिछायी गयी थी जो साढे चार कि0ग्रा0 के लगभग थी और पूरी चटायी खोल देने के बावजूद कहीं से भी उसके अन्दर छुपी मारफीन नही दिख सकती थी। इसी चटायी को लेकर अभियुक्त अब्दुल खालिक मारफीन की सप्लाई देने मणिपुर से आया था पुलिस को उसने बताया कि वह विगत 25 नवम्बर को शाम 5 बजे से पहले नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस के एयर कण्डीशन कोच में बैठकर इलाहाबाद आया फिर वहाॅ से बस द्वारा सुल्तानपुर जनपद होता हुआ हैदरगढ पहुॅचा। हैदरगढ से किसी  सवारी से हरख आया जहाॅ से वह ग्राम टिकरा थाना जैदपुर जाने की फिराक में था।पुलिस को उसने यह भी बताया कि वह माल मणिपुर प्रान्त की आस पास की पहाड़ियो तथा वर्मा देश के अफीम के काश्तकारो से कच्ची अफीम खरीद कर फिर मारफीन मे परिवर्तित कर देश के विभिन्न राज्यों में बेचने का धन्धा करता है। इससे पूर्व जनपद मे वह कई बार आ चुका है तथा जनपद सुल्तानपुर में भी उससे माल की डिलवरी लेने लोग आया करते थे। वह अधिकतर अपना सफर हवाई जहाज या सुपर फास्ट टेनो के एयर कण्डीशन कोचो में बैठकर किया करता था और मारफीन का पैसा वह बैंक एकाउण्ट के माध्यम से डिलवरी देने से पूर्व ही ले लिया करता था। पुलिस ने खालिक के पास से कई अदद एयर टिकट व ट्रेनो के वातानुकूलित टिकट बरामद किए है।
 पुलिस अधीक्षक श्री राणा ने बताया कि अब्दुल खालिक ने स्वीकार किया कि उसके जनपद में अनेको लोग इस धन्धे से जुड़े हुए है और उन्ही में से एक अब्दुल रजाक भी है। जिसे पहले ही एस0ओ0जी0पुलिस गिरफतार कर जेल भेज चुकी है। पुलिस अधीक्षक ने यह भी बताया कि जिस समय अब्दुल रजाक को एस0ओ0जी0पुलिस ने गिरफतार किया था तो उस ट्रेन में अब्दुल खालिक भी था परन्तु उसने एस0ओ0जी0पुलिस को जरा भी अपने बारे मे भनक न मिलने दी। अब्दुल खालिक ने बताया कि वह शादी शुदा तो है परन्तु निःसन्तान और उसकी पत्नी काफी बीमार रहती है जिसके इलाज के लिए उसे काफी धन की जरुरत है। इसीलिए वह इस धन्धे उतरा था।
 अभियुक्त खालिक से मिली जानकारी के पश्चात एस0ओ0जी0पुलिस ने सिराज व कय्यूम के घरो पर बीती रात दबिश दी परन्तु दोनो ने मौके पर नही मिले। परन्तु  तलाशी में उनके घर से दो लीटर एसिटिक एनहाइड्राइड, 20 कि0ग्रा0सोडियम क्लोराइड पाउडर,1.5कि0ग्रा0पावर (अल्प्राजोलम टैबलेट व पैरासीटामाल टैबलेट का मिश्रण), प्लास्टिक की पन्नियाॅ तथा रबड़ बैण्ड के पैकेट मिले है।
blog comments powered by Disqus

लोक वेब मीडिया टीम

मुख्य सलाहकार - मुहम्मद शुऐब
मोबाइल
-09415012666
संपादक -तारिक खान
मोबाइल
-09455804309
प्रबंध संपादक -रणधीर सिंह सुमन
मोबाइल
-09450195427
उपसंपादक - पुष्पेन्द्र कुमार सिंह
मोबाइल
-09838803754

subscribe

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Loksangharsh Patrika

Loksangharsh Patrika

 

Template by NdyTeeN